POETRY NAME – संग तेरे अपने सफर में

अनगिनत विचारो और ख्‍यालो से भरी पड़ी है ये दुनियाकिसीका ख्वाब दुनिया को जीत जानाकिसीका ख्वाब सब को जीत जानाऔर ” मैं संग तेरे अपने सफर में ” मैं ना ख्वाबो काना ख्वाब मुझमेबस थोडा सा खुदमेबाकी सारा का सारा तुझमें सीमित सी उम्र में कभी कुशी कभी हर पल कमीतुझमें तेरे लोगो की रोजमर्रा …

POETRY NAME – संग तेरे अपने सफर में Read More »